केसीके अवॉर्ड समारोह में बोले मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
पत्रिका समाचार नहीं, सुख देता है


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
पत्रिका समूह के संस्थापक कर्पूरचंद्र कुलिश (केसीके) की स्मृति में आयोजित अंतरराष्ट्रीय पत्रकारिता पुरस्कार वितरण सत्र मे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, देश में भ्रष्टाचार के लिए लगातार कोई न कोई चुनाव होते रहना एक बड़ा कारण हैं। इसे रोकने के लिए सभी चुनाव सरकारी धन से एक साथ कराने की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा, पत्रिका समाचार नहीं, सुख देता है। गुलाब कोठारी ने कहा, आजादी के लिए पत्रकार आज भले ही काम नहीं कर रहे हों, लेकिन अलग-अलग क ोनों में अपनी माटी का कर्ज चुका रहे हैं। शिवराज ने कहा, लोकतंत्र में मीडिया की निगरानी की भी बड़ी भूमिका है।

 

 







वर्ष 2012-13 का केसीके अवॉर्ड ब्रिटेन की मार काबरा को

खोजी पत्रकारिता के लिए देश-दुनिया के श्रेष्ठ पत्रकारों को दिया जाने वाला 11 हजार डॉलर का यह प्रतिष्ठित केसीके अवॉर्ड वर्ष 2012-13 के लिए ब्रिटेन के डेली मेल की मार काबरा व उनकी टीम को दिया गया। इस वर्ष का मेरिट अवॉर्ड देशाभिमानी डेली के आर. संबन व उनकी टीम को मिला।
वर्ष 2010 का 11 हजार डॉलर का अवॉर्ड टाइम्स ऑफ इंडिया की अजीथा कार्तिकेयन व द पायोनियर के जे. गोपीकृष्णन व उनकी टीम को संयुक्त रूप से दिया गया। वर्ष 2010 के मेरिट अवॉर्ड नई दुनिया के दीपक रस्तोगी, हिन्दुस्तान टाइम्स के पवन शर्मा तथा गल्फ न्यूज के मजहर फारूकी व इनकी टीमों को दिए गए।
वर्ष 2011 का मेरिट अवॉर्ड हिन्दुस्तान टाइम्स के अरूण कुमार, दैनिक अमरावती मण्डल के जितेन्द्र गुलाबरोजी रोड़े व हिन्दुस्तान के दयाशंकर शुक्ल सागर व उनकी टीम को दिया गया।